Home > औरंगाबाद > पुनपुन नदी के उद्गम स्थान कुंड में सक्रांति के अवसर पर लाखों श्रद्धालुओ ने लगाई डूबकी

पुनपुन नदी के उद्गम स्थान कुंड में सक्रांति के अवसर पर लाखों श्रद्धालुओ ने लगाई डूबकी

 

किशन मिश्रा

मगध एक्सप्रेस(15 जनवरी 18):-नबीनगर-टंडवा: बिहार झारखंड सीमावर्ती छेत्र कुण्ड पे मकर संक्रांति के पावन पर्व पर सोमवार सुबह से ही दसनार्थियो की भीड़ पुनपुन उद्गम स्थान पर एवं बड़ी संख्या में श्रद्धालु विभिन्न घाटों पर स्नान के लिए आते रहे! पुनपुन उद्गम स्थान के बगल में बने शिव मन्दिर में भक्तो का तांता लगा रहा! स्नान कर पूजन-अर्चना की ओर मेले का आनन्द उठाया। मेला में जगह-जगह खिचड़ी प्रसाद भी वितरण किया गया।
पुनपुन उद्गम स्थान औरंगाबाद जिले के सीमावर्ती क्षेत्र झारखण्ड के पलामू जिला के पिपरा प्रखंड के सरैया पंचायत में  स्थित है ।उस स्थान का नाम कुण्ड है। यंहा पर पिपरा,जपला, छतरपुर, हरिहरगंज तथा नवीनगर के रास्ते पहुँच सकते हैं। पुनपुन उद्गम स्थान तक पहुँचने केलिए लगभग 3-4 किलोमीटर सड़क का हाल ख़राब है!जिससे श्रद्धालु को बहुत ही कष्ट का सामना करना पड़ता है!मन्दिर के पुजारी – संजय तिवारी,श्री दिनेश तिवारी, तिर्थराज तिवारी, अंजनी तिवारी, अखिलेश तिवारी तथा गणेश तिवारी का कहना है कि यहाँ पर कार्तिक पूर्णिमा, मकर संक्रांति के अलावे छठ पर्व में बड़ी संख्या में सालो भर श्रद्धालु पहुँचते हैं!उद्गम स्थान पर बरगद के अनेकों पेड़ है  ।यहाँ पानी कभी नही सूखता है! अगर सड़क में सुधार हो जाए साथ ही पेयजल की उत्तम व्यवस्था तो चार चाँद लग जायेगा। आने वाले समय में पुनपुन उद्गम स्थान भी एक अलग पहचान बन कर उभरेगा। यंहा पर  दर्जनों विधायक व् संसद पहुँचते हैं लेकिन आस्वासन के अलावे आज तक कुछ नही मिला!कहने को तो वादे ही वादे है पर सब खाली लोगो की माने तो सीमावर्ती छेत्र होने के कारण वीकास यहांाँ  से कोसो दूर है!

1,356 total views, 3 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *