Home > औरंगाबाद > बैचलर इन वोकेशनल ,पढ़ाई भी और कमाई भी

बैचलर इन वोकेशनल ,पढ़ाई भी और कमाई भी

आशुतोष मिश्रा

मगध एक्सप्रेस(19जनवरी 19):-आज व्यवसायिक शिक्षा का दौर है।जिस गति से सरकारी क्षेत्रों में नौकरी घटती जा रही है आज के युवाओं के लिए निजी कंपनियों में नौकरी एक अच्छे विकल्प के रूप में उभर कर सामने आया है।खास कर रिन्यूएबल एनर्जी के क्षेत्र में आने वाले समय मे नौकरी की भरमार होने वाली है।
रिन्यूएबल एनर्जी के क्षेत्र में कैरियर बनाने के लिए युवा बैचलर इन वोकेशनल तीन वर्षीय डिग्री कोर्स कर अपना कैरियर बना सकते है।

बैचलर इन वोकेशनल कोर्स देश के कुछ जाने माने संस्थानों में कराया जाता है।जिसमे एक नाम टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ सोशल साइंसेस (TISS) का भी है।
बिहार झारखंड और छत्तीसगढ़ में एक मात्र स्टडी सेंटर बिहार के औरंगाबाद जिले में खोला गया है।
इस संबंध में TISS के औरंगाबाद हब पार्टनर सक्सेस वेन्यू एजुकेशनल पॉइंट के डाइरेक्टर चंदन कुमार सिंह से बात की गई तो उन्होंने बताया कि TISS का बैचलर इन वोकेशनल कोर्स युवाओं के लिए वरदान है।Success Venue Educational point

इंटर(साइंस) की परीक्षा उतीर्ण कर चुके युवा जो बी.टेक ,आईटीआई ,पॉलीटेक्निक कोर्स करने की सोंच रहे है उनके लिए बैचलर इन वोकेशनल एक अच्छा विकल्प है।

बताते चलें कि TISS के द्वारा संचालित कोर्स में ऑन जॉब ट्रेनिंग यानी अप्रेंटिसशिप प्रोग्राम पर आधारित है।इस कोर्स में नामांकन के साथ ही संबंधित कंपनी में अप्रेंटिसशिप के लिए भेज दिया जाता है।जहाँ पढ़ाई के साथ वर्किंग ट्रेनिंग दी जाति है और उसके लिए स्टूडेंट को स्टाइपेंड भी दिया जाता है।

बैचलर इन वोकेशनल कोर्स में नामांकन के बाद पढ़ाई और कमाई दोनो एक साथ होता है।

939 total views, 6 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *