Home > औरंगाबाद > नक्सलियों की तड़तड़ाहट के बिच पुलिस की महज 62 राउंड , देव थाना की सायलेंट पुलिस

नक्सलियों की तड़तड़ाहट के बिच पुलिस की महज 62 राउंड , देव थाना की सायलेंट पुलिस

मगध एक्सप्रेस [ 4 जनवरी 19 ];-  औरंगाबाद जिले के देव थाना से महज 1 किलोमीटर दुरी पर स्थित सुदी बिगहा गाँव में हुए नक्सली हमले के बाद जिला ही नहीं बल्कि पुरे बिहार में इस नक्सली घटना की चर्चा जोरो पर है। सुदी बिगहा गाँव के ग्रामीण बताते है कि नक्सली 100 से ज्यादा की संख्या में थे और गाँव ही नहीं बल्कि आसपास के पुरे इलाके में फैले हुए थे।  गाँव में जहाँ नक्सली ताबड़तोड़ फायरिंग कर पुरे गाँव के लोगो को भयभीत कर दिया वहीँ देव गोदाम मुख्य सड़क पर नक्सलियों की गोलियों की तड़तड़ाहट से पूरा इलाका गुंजायमान रहा।

पुलिसिया कार्यवाई पर उठे सवाल

सुदी बिगहा गाँव में नक्सली हमला होने के बाद जिस तरह नक्सलियों ने नरेंद्र सिंह की हत्या बेरहमी से कर दी ,जिसकी खबर वहां मौजूद नरेंद्र सिंह के परिवार ने अपने बेटे चन्दन कुमार को दी ,तब चन्दन कुमार तुरंत ही थाना पर पहुंचे और घटना की जानकारी देव थाना को दिया।  चन्दन बताते है कि देव थाना कि पुलिस 20 मिनट तक तैयार होने में लगा दी ,उसके बाद पुलिस निकली तो सीधे देव हॉस्पिटल एम्बुलेंस लेने चली गई।  वहां भी पुलिस ने 10 मिनट लगा दिया।  इतना ही नहीं वहां से भी जब पुलिस निकली तो मै खुद पुलिस के आगे आगे चल रहा था बावजूद पुलिस देव कन्हैया मोड और दीवान बिगहा के बिच श्मशान घाट के नजदीक रुक गई और आगे बढ़ने का नाम ही नहीं ले रही थी जबकि नक्सली लगातार घटनास्थल पर फायरिंग कर रहे थे और आगजनी कर नारेबाजी कर रहे थे।  चन्दन के अनुसार पुलिस न आगे बढ़ रही थी नहीं कोई जवाब दे रही थी ,पूरी तरह सायलेंट बनकर तमाशा होते हुए देख रही थी , काफी हल्ला हंगामा करने के बाद पुलिस आगे बढ़ी , इस दौरान पुलिस ने एक घंटे इस एक किलोमीटर के अंदर ही व्यतीत कर दिया। यहाँ तक की नक्सली घटनास्थल पर थे और पुलिस को फायरिंग करने के लिए कहा गया ताकि नक्सली पुलिस की मौजूदगी जानकार भागे लेकिन पुलिस ने जबतक फायरिंग किया तबतक सबकुछ स्वाहा हो चुका था।

नक्सलियों के तड़तड़ाहट के बिच पुलिस की 62 राउंड

सुदी बिगहा में हुए नक्सली हमला के बाद विलम्ब से पहुंची पुलिस की टीम ने नक्सलियों के तड़तड़ाहट के बिच मात्र 62 राउंड ही फायरिंग किया।  इस बात का खुलासा देव थाना में दर्ज एफआईआर से हुआ है।  एफआईआर के अनुसार देव थानाध्यक्ष सुबोध कुमार के पिस्टल से मात्र 9 राउंड ,एके 47 से 24 राउंड ,इंसास से 29 राउंड ही फायरिंग की गई जबकि पुलिस ने कहा है कि औटोमैटिक / सेमि ऑटोमैटिक हथियार रहने के कारण फायर किये गए गोलियों का खोका नहीं मिला है।

पुलिसिया कार्यवाई तेज

देव के सुदी बिगहा में हुए घटना के बाद जहाँ औरंगाबाद पुलिस बैकफुट पर आ गई है वहीँ घटना के बाद औरंगाबाद पुलिस कप्तान डॉ सत्य प्रकाश , एएसपी अभियान राजेश सिंह के नेतृत्व में पुलिसिया कार्यवाई तेज हो गई है।  पुलिस के अधिकारी इस पुरे मामले में जल्द रिजल्ट चाहते है ताकि ग्रामीणों के बिच पुलिस की जो विश्वसनीयता घटी है उसकी भारपाई किया जा सके। घटना के बाद सीआरपीएफ ,कोबरा ,चिता , एसटीएफ सहित अन्य सुरक्षाबलों को नक्सलियों के विरुद्ध ऑपरेशन में लगाया गया है।

4,668 total views, 9 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *